Connect with us

Uttar Pradesh

काशी को स्वच्छ करने का अभियान आज से : नगर निगम का 75 घंटे का सफाई अभियान, सेल्फी प्वाइंट भी लगाए

Published

on

[ad_1]

नगर निगम का 75 घंटे चला स्वच्छता अभियान, सेल्फी प्वाइंट भी लगाए

नगर निगम का 75 घंटे चला स्वच्छता अभियान, सेल्फी प्वाइंट भी लगाए
– फोटो : सोशल मीडिया

समाचार सुनें

वाराणसी नगर निगम आज से शहर में 75 घंटे का मेगा-स्वच्छता अभियान शुरू कर रहा है। नगर निगम के नगर आयुक्त प्रणय सिंह ने बताया कि यह सफाई अभियान एक दिसंबर से शुरू होकर तीन दिसंबर तक चलेगा। इसके तहत शहर को कचरा मुक्त बनाया जाएगा और सभी उपाय किए जाएंगे।
वाराणसी शहर में लगे कैमरों से कूड़ा फेंकने वालों पर नजर रखी जाएगी। ऐसे लोगों की पहचान कर जुर्माना लगाया जाएगा। स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर में सेल्फी प्वाइंट लगाए गए हैं।
इस दौरान फोटो और मैसेज शेयर करने वालों को चुना जाएगा और उन्हें इनामी राशि दी जाएगी। इसकी कार्ययोजना जल्द पेश की जाएगी। साफ-सफाई के लिए स्कूली बच्चों की मदद ली जाएगी। मॉडल एरिया विकसित किया जाएगा ताकि बाहर से आने वाले पर्यटकों के सामने शहर की अच्छी छवि पेश की जा सके। अभियान के दौरान बारीक कार्रवाई शुरू करेंगे। इस दौरान पहले नोटिस दिया जाएगा, उसके बाद ₹500 से एक लाख तक का जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही मेडिकल वेस्ट फेंकने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। गंदगी से संबंधित कोई भी शिकायत नगर निगम के टोल फ्री नंबर 1533 पर की जा सकती है।

विस्तार

वाराणसी नगर निगम आज से शहर में 75 घंटे का मेगा-स्वच्छता अभियान शुरू कर रहा है। नगर निगम के नगर आयुक्त प्रणय सिंह ने बताया कि यह सफाई अभियान एक दिसंबर से शुरू होकर तीन दिसंबर तक चलेगा। इसके तहत शहर को कचरा मुक्त बनाया जाएगा और सभी उपाय किए जाएंगे।

वाराणसी शहर में लगे कैमरों से कूड़ा फेंकने वालों पर नजर रखी जाएगी। ऐसे लोगों की पहचान कर जुर्माना लगाया जाएगा। स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर में सेल्फी प्वाइंट लगाए गए हैं।

इस दौरान फोटो और मैसेज शेयर करने वालों को चुना जाएगा और उन्हें इनामी राशि दी जाएगी। इसकी कार्ययोजना जल्द पेश की जाएगी। साफ-सफाई के लिए स्कूली बच्चों की मदद ली जाएगी। मॉडल एरिया विकसित किया जाएगा ताकि बाहर से आने वाले पर्यटकों के सामने शहर की अच्छी छवि पेश की जा सके। अभियान के दौरान बारीक कार्रवाई शुरू करेंगे। इस दौरान पहले नोटिस दिया जाएगा, उसके बाद ₹500 से एक लाख तक का जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही मेडिकल वेस्ट फेंकने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। गंदगी से संबंधित कोई भी शिकायत नगर निगम के टोल फ्री नंबर 1533 पर की जा सकती है।

,

[ad_2]

Source link

Trending