Connect with us

Prayagraj News

Fraud Case : एविएशन कंपनी में नौकरी का झांसा देकर 70 हजार उड़ाए, मुकदमा दर्ज

Published

on

[ad_1]

धोखा

धोखा
– फोटो: आईस्टॉक

समाचार सुनें

कर्नलगंज निवासी ज्योति यादव नौकरी की तलाश में थी, इसलिए उसने वेबसाइट के जरिए आवेदन किया। इसी दौरान एविएशन कंपनी में नौकरी दिलाने के नाम पर साइबर ठगों ने उससे 70 हजार रुपए ठग लिए। पीड़िता रामप्रिया रोड कर्नलगंज की रहने वाली है। उन्होंने बताया कि उन्होंने अपना रिज्यूमे Naukri.com पर डाला था. 28 अक्टूबर को फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को एयर एशिया का एचआर हेड बताया। कहा कि उनका रिज्यूमे एयरएशिया इंडिया लिमिटेड में शॉर्टलिस्ट किया गया है।

कॉल करने वाले ने पहले रजिस्ट्रेशन के नाम पर 3700 रुपए जमा कर दिए। फिर इंटरव्यू करवाया और चयन के बहाने 16 हजार रुपए जमा कर दिए। इसके बाद पहले 30 हजार कोरियर व अन्य खर्च के नाम पर जमा कराया और फिर बाद में भी। इस तरह कुल 69825 रुपए जमा हो गए। बाद में पता चला कि उसके साथ ठगी हुई है। इसके बाद उन्होंने कर्नलगंज थाने में मामला दर्ज कराया।

भतीजी की शादी के नाम पर ठगे 93 हजार

भतीजी की शादी का झांसा देकर साइबर ठगों ने झूंसी निवासी सुरेंद्र कुमार प्रजापति से 93 हजार रुपये की ठगी की। उसने पुलिस को बताया कि लखनऊ में रहने वाली बहन ने अपनी बेटी की शादी का विज्ञापन निकलवाया था। इसी बीच ज्ञानचंद नाम के शख्स ने फोन कर बताया कि वह अपने बेटे के लिए मेरी भतीजी को पसंद करता है। साथ ही बताया कि वह जयपुर सगाई में जा रहे हैं और लौटने पर आगे की बात करेंगे। कुछ दिन बाद मेरे पास एक अनजान नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने अपना परिचय कुलदीप यादव, थाना कोठपुतली, राजस्थान का एसएसओ बताया। बताया जाता है कि ज्ञान चंद की कार की चपेट में आने से साइकिल सवार की मौत हो गयी.

उसका भाई नावेद चार लाख रुपये की मांग कर रहा है। इसके बाद ज्ञानचंद ने फोन पर बताया कि 30 हजार रुपये कम पड़ रहे हैं तो खाते में राशि ट्रांसफर कर दी। कुछ देर बाद थानेदार ने फिर फोन कर बताया कि सीओ नहीं मान रहे हैं और 50 हजार रुपये और वसूले जाएंगे। इस पर उन्होंने यह राशि भी दे दी। इसके बाद उन्होंने दोबारा फोन कर बताया कि ज्ञान चंद की पत्नी की हड्डियां टूट गई हैं, ऐसे में एंबुलेंस की जरूरत है, जिसके लिए 11 हजार रुपये की जरूरत होगी. ऐसे में आखिरकार उन्होंने 11 हजार रुपए भी ट्रांसफर कर दिए। इस तरह 93 हजार रुपए हड़प गए।

सावधान हो जाओ तभी बचोगे

एसपी क्राइम सतीश चंद्र का कहना है कि साइबर फ्रॉड से बचने के लिए सबसे जरूरी है कि लोग खुद सावधान रहें. अगर कोई नौकरी के नाम पर पैसे मांगे तो समझ जाएं कि उसकी मंशा ठीक नहीं है। आजकल ऑनलाइन रिलेशनशिप के नाम पर ठगी के मामले भी सामने आ रहे हैं. नौकरी हो या वैवाहिक मामला जब तक खुद पर यकीन न हो तब तक किसी को पैसा न दें। साइबर ठग फर्जी नाम-पते और आईडी पर अकाउंट खुलवाते हैं। ऐसे में उनका अकाउंट नंबर होने के बाद भी उन्हें ट्रेस करना आसान नहीं है। ऐसे में खुद से सावधान रहने की जरूरत है।

अगर आप साइबर फ्रॉड के शिकार हुए हैं तो अपनी जानकारी हमारे साथ साझा करें
अगर आप साइबर फ्रॉड के शिकार हुए हैं तो यह कैसे हुआ, ठग ने क्या कहा, इसके बाद रकम वापस हुई या नहीं। आप इस जानकारी को हमारे साथ व्हाट्सअप पर इस नंबर 7617566162 पर साझा कर सकते हैं। हम आपसे प्राप्त जानकारी को प्रकाशित कर अन्य लोगों को सतर्क करने का प्रयास करेंगे।

विस्तार

कर्नलगंज निवासी ज्योति यादव नौकरी की तलाश में थी, इसलिए उसने वेबसाइट के जरिए आवेदन किया। इसी दौरान एविएशन कंपनी में नौकरी दिलाने के नाम पर साइबर ठगों ने उससे 70 हजार रुपए ठग लिए। पीड़िता रामप्रिया रोड कर्नलगंज की रहने वाली है। उन्होंने बताया कि उन्होंने अपना रिज्यूमे Naukri.com पर डाला था. 28 अक्टूबर को फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को एयर एशिया का एचआर हेड बताया। कहा कि उनका रिज्यूमे एयरएशिया इंडिया लिमिटेड में शॉर्टलिस्ट किया गया है।

कॉल करने वाले ने पहले रजिस्ट्रेशन के नाम पर 3700 रुपए जमा कर दिए। फिर इंटरव्यू करवाया और चयन के बहाने 16 हजार रुपए जमा कर दिए। इसके बाद पहले 30 हजार कोरियर व अन्य खर्च के नाम पर जमा कराया और फिर बाद में भी। इस तरह कुल 69825 रुपए जमा हो गए। बाद में पता चला कि उसके साथ ठगी हुई है। इसके बाद उन्होंने कर्नलगंज थाने में मामला दर्ज कराया।

,

[ad_2]

Source link

Trending